Friday, September 30, 2022
More

    अगले हफ्ते स्टार हेल्थ का आएगा आईपीओ

    #Team nirogbhav

    दिल्ली। देश के हेल्थ सेक्टर में अब बदलाव आ रहा है। निजी क्षेत्र की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा कंपनी में से एक स्टार हेल्थ का आईपीओ अगले हफ्ते आ रहा है।

    भारत का वॉरेन बफेट #Warren Buffett कहे जाने वाले दिग्गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला की होल्डिंग वाली इस बीमा कंपनी का आईपीओ 30 नवंबर को खुलेगा और निवेशक इसे 2 दिसंबर तक खरीद सकेंगे।

    स्टार हेल्थ ने आज (24 नवंबर) इस इश्यू के लिए प्राइस बैंड तय कर दिया है ,निवेशक 7249 करोड़ रुपये के इस आईपीओ में 870-900 रुपये प्रति शेयर के प्राइस बैंड में पैसे लगा सकेंगे। इश्यू के तहत 2 हजार करोड़ रुपये के नए इक्विटी शेयर जारी होंगे।

    दिग्गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला की बात करें तो बिग बुल की इस स्वास्थ्य बीमा कंपनी में 14 फीसदी की हिस्सेदारी है जबकि उनकी पत्नी रेखा झुनझुनवाला की इस कंपनी में 3.26 फीसदी की हिस्सेदारी है यानी कि दोनों की स्टार हेल्थ में 17.26 फीसदी हिस्सेदारी है।

    इश्यू के तहत 2 हजार करोड़ रुपये के नए शेयर जारी होंगे. इसके अलावा प्रमोटर्स व वर्तमान शेयरधारक ऑफर फॉर सेल (ओएफएस) के जरिए 5,83,24,225 इक्विटी शेयरों की बिक्री करेंगे।

    इश्यू के लिए 870-900 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया गया है। कंपनी के कर्मियों के लिए 80 रुपये का डिस्काउंट है। कंपनी ने 16 इक्विटी शेयरों का लॉट साइज तय किया है यानी कि प्राइस बैंड के अपर प्राइस के हिसाब से निवेशकों को कम से कम 14400 रुपये का निवेश करना होगा.

    सबसे बड़ी निजी स्वास्थ्य बीमा कंपनी

    स्टार हेल्थ देश की सबसे बड़ी निजी स्वास्थ्य बीमा कंपनी है जिसकी वित्त वर्ष 2021 में 15.8 फीसदी हिस्सेदारी थी. कंपनी का मुख्य फोकस खुदरा हेल्थ मार्केट सेग्मेंट पर है.

    यह कंपनी रिटेल हेल्थ, ग्रुप हेल्थ, पर्सनल एक्सीडेंट और ओवरसीज ट्रैवल से जुड़े कवरेज के विकल्प मुहैया कराती है।

    वित्त वर्ष 2021 के उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक इसके नेटवर्क डिस्ट्रीब्यूशन में देश के 26 राज्यों व 4 यूनियन टेरीटरीज में 737 हेल्थ इंश्योरेंस ब्रांचेज है।
    स्टार हेल्थ के नेटवर्क में बहुत सारे हॉस्पिटल्स हैं और देश के सबसे बड़े हेल्थ इंश्योरेंस नेटवर्क्स में एक है.

    इसके नेटवर्क में देश भर में 10870 से अधिक अस्पताल हैं।

    (फाइनेंसियल और बिज़नेस स्टैण्डर्ड के इनपुट पर आधारित )